UTET Exam Paper 1(First Language – Hindi)

  • by

UTET Exam Paper 1(First Language – Hindi) Answer Key: 24 March 2021


24 March 2021 को उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद् (UBSE – Uttarakhand Board of School Education) द्वारा  UTET (Uttarakhand Teachers Eligibility Test) की परीक्षा आयोजित कराई गयी है । UTET Exam Paper 1 – 2021 (भाषा प्रथम – हिंदी) Answer Key हमारी website पर उपलब्ध है।


Exam: UTET (Uttarakhand Teachers Eligibility Test)
Organized by: UBSE
Exam Date: 24 March 2021
Total Questions: 30
Total Time: 2:30 hrs
Paper Language: Hindi/English
Paper Set: – B


Q31.निम्नांकित में से सही विकल्प का चयन कीजिए –
(A) भाषा के पाठ्यक्रम में प्रारम्भ से ही व्याकरण की शिक्षा का प्रावधान होना चाहिए।
(B) व्याकरण भाषा का नियंत्रक होता है।
(C) आकरण का क्रमबद्ध ज्ञान आवश्यक है।
(D) भाषा के व्याकरण का मूल तत्त्व है – शब्द ज्ञान

Q32.भाषा का प्रारम्भिक बोध होता है –
(A) अनुकरण एवं श्रवण से
(B) पठन-पाठन से
(C) चिन्तन एवं मनन से
(D) अध्ययन-अध्यापन से

Q33.छात्रों के वर्तनीजन्य दोषों के निराकरण का उपयोगी उपागम है-
(A) बुद्धि परीक्षण
(B) गृहकार्य का निरीक्षण
(C) छात्र -शिक्षक संवाद
(D) उपचारात्मक शिक्षण

Q34.भाषा शिक्षण का ज्ञानालाक उद्देश्य बताइए
(A) सत्रों में भाषा के प्रति सम्मान जागृत करना।
(B) छात्रों में एकता का भाव जागृत करना।
(C) देश की मूलभूत संस्कृति से परिचित कराना।
(D) छात्रों को देश के विभिन्न भाषायी लोगों से संपर्क योग्य बनाना।

Q35.कविता शिक्षण का मुख्य उद्देश्य है-
(A) मित्रों को भाषा के शास्त्रीय पक्ष का ज्ञान कराना।
(B) छात्रों को भावानुसार पाचन की दक्षता प्रदान करमा।
(C) आज की उदात्त भावनाओं का संवर्धन व रसानुभूति।
(D) झलकी आणिक चेष्टाओं को परिष्कृत करना।

Q36.कक्षा शिक्षण में प्रश्नोत्तर प्रणाली का सबसे बड़ा लाभ है.
(A) छात्रों की प्रतिभागिता रहती है।
(B) समय का सदुपयोग होता है।
(C) छात्र अध्ययन के प्रति सचेत व अभिमुख हते हैं।
(D) शिक्षक का श्रम बचता है।

Q37.इ.ई. 3, ऊ किस प्रकार के स्वर है?
(A) संवृत
(B) असकृत
(C) विवृत
(D) अर्डवितृत

Q38.मैथिल कोकिल किसे कहा जाता है?
(A) सेनापति
(B) विद्यापति
(C) पद्माकर
(D) घनानन्द

Q39.साहित्यिक अपभ्रंश को पुरानी हिन्दी नाम किसने दिया?
(A) रामचन्द्र शुक्ल
(B) हजारी प्रसाद द्विवेदी
(C) राहुल सांकृत्यायन
(D) महावीर प्रसाद द्विवेदी

Q40.अष्टाछाप के कवियों में प्रथम नियुक्त कीर्तनकार कवि कौन थे?
(A) नन्ददास
(B) कृष्णादास
(C) सूरदास
(D) कुंभनदास

Q41.चौपाई छन्द पर आधारित ‘रमैनी’ के रचनाकार हैं-
(A) बिहारी
(B) रहीम
(C) भूषण
(D) कबीर

Q42.कपोत शल का पर्यायवाची बताइए –
(A) परभृत
(B) पिक
(C) पारावत
(D) चंचरीक

Q43.किस शब्द में नञ् तत्पुरुष समास है?
(A) अनभिज्ञ
(B) अनुकूल
(C) गंगाजल
(D) धर्माधर्म

Q44.यण सन्धि का उदाहरण है
(A) मतैक्य
(B) अत्युत्तम
(C) शयन
(D) तन्मय

Q45.अंग्रेज शब्द मूलतः किस भाषा का है?
(A) हिन्दी
(B) फारसी
(C) तुर्की
(D) फ्रैंच

Q46. निराला कृत राम की शक्ति पूजा का आधार ग्रन्थ कौन है?
(A) कम्बन रामायण
(B) कृत्तिवास रामायण
(C) रामचरितमानस
(D) रामचन्द्रिका

Q47.चन्द्र सकलंक, मुख निष्कलंक,
दोनों में समता कैसी।
उक्त पद में कौन सा अलंकार है।
(A) रूपक
(B) असंगति
(C) व्यतिरेक
(D) दीपक

Q48. द्विवेदी युग का नामकरण किसके नाम से हुआ?
(A) हजारीप्रसाद द्विवेदी
(B) महावीर प्रसाद द्विवेदी
(C) शान्ति प्रिय द्विवेदी
(D) राम अवध द्विवेदी

Q49.अधिकार सुख कितना मादक और सारहीन है।’
उक्त कथन जयशंकर प्रसाद के किस नाटक से लिया गया है?
(A) चन्द्रगुप्त
(B) स्कन्दगुप्त
(C) अजातशत्रु
(D) पुवस्वामिनी

50.’बोल्गा से गंगा’ के लेखक का नाम बताइए-
(A) रांगेय राघव
(B) राहुल सांकृत्यायन
(C) धर्मवीर भारती
(D) राजेन्द्र यादव

निर्देश : निम्नलिखित पद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों (प्रश्न संख्या 51 से 55 तक) के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए।
तुम मांसहीन, तुम रक्तहीन
हे अस्थिशेष! तुम अस्थिहीन.
तुम शुद्ध बुद्ध आत्मा केवल,
हे चिर पुराण! हे चिर नवीन!
तुम पूर्ण इकाई जीवन की.
जिसमें असारभव शून्य लीन.
आधार अमर होगी जिस पर
भावी की संस्कृति लीन।

Q51.प्रस्तुत काव्य पंक्तियों के रचनाकार का नाम बताइए
(A) धर्मवीर भारती
(B) गजानन माधव’मुक्तिबोध’
(C) सुमित्रानन्दन पन्त
(D) मैथिलीशरण गुप्त

Q52.तुम मांसहीन, तुम रक्तहीन’ से क्या भाव व्यक्त होता है
(A) जड़ता
(B) दुर्बलता
(C) पारमहस्य स्थिति
(D) विद्यारहीनता

Q53.हे चिर पुराण! है चिर नवीन! में कौन सा अलंकार हैं?
(A) विपर्यय
(B) विभावना
(C) विरोधाभास
(D) जसंगति

Q54.’पूर्ण इकाई जीवन की’ का भावार्थ क्या है?
(A) जीवन के अन्तिम लक्ष्य की प्राप्ति
(B) सम्पूर्ण व्यक्तित्व का विकास
(C) सामाजिक अनुभव प्राप्त करना
(D) मानव जीवन की परिपक्वता


Q55.उपर्युक्त काव्यांश में कौन सा छन्द है।
(A) मनहर
(B) मुक्त छन्द
(C) गीतिका
(D) तोमर

निर्देश । निम्नलिखित गद्यांश की पढ़कर पूछे गए प्रश्नों (प्रश्न संख्या 56 से 60 तक के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिष्ट।
शिक्षा चाहती है कि उसको अपने समाज से जोड़ा जाय, लोगों से जोड़ा जाय और हर विद्यार्थी को एसी लोकोन्मुख दृष्टि दी जाय कि सर्वोदय को अपना धर्म-कर्म मानने लगे। दरअसल यह समझना जरूरी है कि शिक्षा को शिक्षित करने का सबसे बड़ा स्थान समाज ही है। समाज की कराण कथाएँ समाज में गरीब से गरीब का अर्थशास शिक्षा को शिक्षित करने में समर्थ है। शिक्षा के लिए तथ्य और ताव दोनी ईदने का सही स्थान समाज ही हैं। समाज में रहने वाले विलक्षण प्रतिभाशाली लोगों पृत कोई भी शैक्षिक वावस्था अपने को सम्पन्न नहीं बना सकती। समाज के विश्लेषण से ही सरती शिक्षा सम्मा हो सकती है। इस तरह से शिक्षा अपने को सांधने का दाना-पानी समाज से ले सकती है और सामान को कुछ वापस कर सकती है। ऐसी यो रिया समाज और फिर राष्ट्र को ओजी दस्ती बनाने में सफल होगी।

Q56.शिक्षा की सर्वोच्च अभिलाषा क्या है?
(A) छात्र को आदर्श की ओर उन्मुख करना ।
(B) छात्र को आत्मनिर्भर बनाना।
(C) छात्र में समाजोन्मुखी दृष्टिकोण विकसित करना।
(D) छात्रों को कौशल विकास की दिशा प्रदान करना।

Q57.लोकोन्मुख दृष्टि का क्या आशय है?
(A) समाजिक परंपराओं का बोध।
(B) समाज के बहुमुखी विकास की सोच।
(C) लौकिक विकास के प्रति चिन्तनपरता।
(D) लोकादों से परे कार्य करने का भाव।

Q58.’गरीब परिवार का अर्थशास्त्र’ शिक्षा को शिक्षित करने में कैसे समर्थ हो सकता है?
(A) शैक्षिक नियोजन में सर्वोदय के बिन्दुओं को समाहित करने से।
(B) शिक्षा व्यवस्था में अधिक धन आबंटित करने से।
(C) गरीब परिवारों को आर्थिक मदद करने से।
(D) गरीबी के मूल कारणों का विश्लेषण करने से।

Q59.राष्ट्र को तेजस्वी कैसे बनाया जा सकता है।
(A) शिक्षा के व्यापक प्रचार और प्रसार से।
(B) विभिन्न सामाजिक स्रोतों से यथेष्ठ संसाधन जुटाने से।
(C) महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा लेने से।
(D) समाज में व्याप्त बुराइयों के निराकरण से।

Q60.लोकोन्मुख’ शब्द में कौन सी सन्धि है?
(A) यण सन्धि
(B) गुण सन्धि
(C) अयादि सन्धि
D) वृद्धि सन्धि