पुलवामा हमला (PULWAMA ATTACK)

  • by

  • पुलवामा हमला -14 फ़रवरी 2019
  • जवान शहीद – 40
  • वक़्त-दोपहर 3:33 मिनट
  • हमलावर – आदिल अहमद डार

14 फरवरी 2019 गुरुवार सुबह 3:30 बजे सीआरपीएफ ट्रांजिट कैंप जम्मू-

सीआरपीएफ के जवानों को जम्मू ट्रांजिट कैंप से श्रीनगर ले जाया जा रहा था। सीआरपीएफ के 180 बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट मनोज कुमार की अगुवाई में  78 गाड़ियों का काफिला ट्रांजिट कैंप से सुबह के 3:30 बजे श्रीनगर को रवाना हो जाता है। आमतौर पर हर रोज छुट्टियों से लौटते, नई पोस्टिंग ,ट्रांसफर के तहत करीब 500 से 800 जवान जम्मू से श्रीनगर से जम्मू पहुंचते हैं। वो भी एक साथ गाड़ियों के काफिले में मगर पिछले 4 फरवरी 2019 से जम्मू नेशनल हाईवे बर्फ़ बारी के चलते बंद था।  ट्रांसफर, पोस्टिंग और छुट्टियों से लौटे जवानों की तादात बढ़ती गई और वह जम्मू में फंसे रहे। यही वजह है कि रास्ता खुलते ही एक साथ 2547 जवानों को 78 गाड़ियों के काफिले में श्रीनगर के लिए रवाना किया गया ।

दोपहर 2:15 ट्रांजिट कैंप काज़ीकुंड-

लगभग 11 घंटे के सफर के बाद सीआरपीएफ का काफिला काज़ीकुंड पहुंचता है। यहां से श्रीनगर अब 73 किलोमीटर दूर था। काजी कौन ट्रांजिट कैंप 14 गाड़ियां रुक जाती है जबकि दो गाड़ी में कुछ तकनीकी खराबी आ गई थी इसीलिए उन्हें रोकना पड़ा। दोनों खराब गाड़ियों में सवार जवानों को दूसरी गाड़ियों में शिफ्ट किया जाता है। जबकि 23 जवान काज़ीकुंड ट्रांजिट कैंप में ही रुक जाते हैं क्योंकि उनकी ड्यूटी वही थी।

दोपहर 2:38 मिनट

काज़ीकुंड से काफिले में अब 16 और गाड़ियां शामिल हो जाती हैं । इसके बाद ठीक 2:38 पर काफिला काज़ीकुंड से अपने आखिरी मंजिल श्रीनगर के लिए निकल पड़ता है। जम्मू श्रीनगर नेशनल हाईवे पर कई सर्विस लेन भी है। जो छोटे-मोटे जिलों को नेशनल हाईवे से जोड़ती है। अवंतीपुरा के करीब गोंरीपुरा में ठीक ऐसे ही एक सर्विस लेन पर एक टाटा सुमो गाड़ी खड़ी थी।उस गाड़ी में जैश का आतंकवादी आदिल अहमद डार सवार था। आदिल डार को सीआरपीएफ के काफिले की गुजरने के पहले से जानकारी थी।

दोपहर 3:33 माइलस्टोन 272 गोंरीपुरा पुलवामा-

दोपहर के 3:33 मिनट पर काफिला अब गोंरीपुरा इलाके से गुजर रहा था । कतार में चल रही गाड़ियों में पांचवें नंबर पर जो बस  थी  उसका रजिस्टर नंबर था,

HR49F0637/76 वीं बटालियन

ये जवान सीआरपीएफ की 76वीं, 45वीं, तीसरी, 176वीं, 115वीं, 92वीं, 82वीं, 75वीं, 61वीं, 35वीं, 21वीं, 98वीं, और 118वीं बटालियन के थे। यह बस जैसे ही नेशनल हाईवे के माइलस्टोन 272 पर पहुंचती है, अचानक सर्विस प्लेन से वहीं टाटा सुमो बेहद तेजी से हाईवे पर आती है और इसी बस से टकरा जाती है। टक्कर होते हैं एक जबरदस्त धमाका होता है ।इस एक बस में कुल 40 जवान सवार थे और टाटा सुमो में करीब 350 किलो विस्फोटक। धमाका इतना जबरदस्त था कि अकेले एक बस में सवार सभी 40 के 40 जवान मौके पर ही शहीद हो जाते हैं ।इस बस के ठीक पीछे वाली बस में धमाके से ज्यादातर जवान जख्मी हो जाते हैं।जिस टाटा सुमो से यह हमला हुआ वह गाड़ी लोकल की थी। आदिल अहमद डार का घर हमले की जगह से सिर्फ 10 किमी की दुरी पर था। इस हमले की पूरी जिमेदारी जैश-ए-मुहम्मद ने ली ।

 

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की लिस्ट-

शहीद का नामयूनिटस्थान
कुलविंदर सिंह92वीं बटालियनआनंदपुर साहिब, पंजाब
महेश कुमार 118वीं बटालियनप्रयागराज (इलाहाबाद) , उत्तरप्रदेश
मोहनलाल 110वीं बटालियन उत्तरकाशी, उत्तराखंड
वीरेंद्र सिंह 45वीं बटालियनउधमसिंहनगर, उत्तराखंड
अजीत कुमार आज़ाद 115वीं बटालियन उन्नाव,उत्तरप्रदेश
तिलक राज76वीं बटालियन कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश
श्याम बाबू 115वीं बटालियन कानपुर देहात, उत्तरप्रदेश
हेमराज मीणा 61वीं बटालियन कोटा, राजस्थान
विजय सोरेंग82वीं बटालियन गुमला, झारखंड
मनिंदर सिंह अतरी 75वीं बटालियन गुरदासपुर, पंजाब
अवधेश कुमार यादव 45वीं बटालियन चंदौली, उत्तर प्रदेश
पी.के साहू 61वीं बटालियन जगत सिंह पुर, ओडिशा
अश्विनी कुमार 35वीं बटालियन जबलपुर, मध्यप्रदेश
रोहिताश लांबा 76वीं बटालियन जयपुर, राजस्थान
सुखजिंदर सिंह76वीं बटालियन तरणतारन, पंजाब
सुब्रमनियन जी. 82वीं बटालियनतुतीकोरिन, तमिलनाडू
प्रदीप कुमार115वीं बटालियन तेरवा, कन्नौज
विजय कुमार मौर्या 92वीं बटालियन देवरिया, उत्तर प्रदेश
संजय कुमार सिन्हा 176वीं बटालियनपटना, बिहार
कौशल कुमार रावत 115वीं बटालियन प्रतापपुरा, उत्तर प्रदेश
मानेसवर बासुमतारी 98वीं बटालियन बक्सा, असम
राठौड़ नितिन शिवाजी 3वीं बटालियन बलदाना, महाराष्ट्र
संजय राजपूत 115वीं बटालियन बुलढाना, महाराष्ट्र
जीत राम 92वीं बटालियन भरतपुर, राजस्थान
रतन कुमार ठाकुर 45वीं बटालियन भागलपुर, बिहार
पंकज कुमार त्रिपाठी 53वीं बटालियन महाराजगंज, उत्तर प्रदेश
गुरू एच. 82वीं बटालियन मांड्या, कर्नाटक
राम वकील 176वीं बटालियन मैनपुरी, उत्तर प्रदेश
बबलू संतरा 35वीं बटालियन हावड़ा, पश्चिम बंगाल
प्रदीप कुमार 21वीं बटालियन शामली, उत्तर प्रदेश
अमित कुमार 92वीं बटालियन शामली, उत्तर प्रदेश
रमेश यादव 61वीं बटालियन वाराणसी, उत्तर प्रदेश
जयमल सिंह 76वीं बटालियन मोगा, पंजाब
नारायण लाल गुर्जर 118वीं बटालियन राजसामंद,राजस्थान
नासीर अहमद 76वीं बटालियन राजौरी, जम्मू-कश्मीर
वसंथा कुमार वी.वी 82वीं बटालियन वयानाड़, केरल
मनोज कुमार बेहरा82वीं बटालियन रतनपुर, ओड़िशा
सुदीप बिस्वास98वीं बटालियन नदिया, पश्चिम बंगाल
सी सिवाचंद्रन92वीं बटालियन करकुडी,तमिलनाडु
भागीरथ सिंह45वीं बटालियनजैतपुर,राजस्थान